टोल प्लाजा रेट व अन्य जानकारियां किस तरह जानी जाएँ

टोल प्लाजा रेट जानने की ज़रूरत आम नागरिक को तब पड़ती है जब एक शहर से दूसरे शहर जाना हो. जरूरत तो उन्हें भी पड़ती है जो व्यवसायिक वाहनों से सामान एक शहर से दूसरे शहर ले जाते हैं.

ऐसा कई बार मेरे साथ हुआ है जब हड़बडी में टोल नाके पर घोषित टैक्‍स के अलावा कुछ ज्‍यादा पैसे वसूल कर लिए या खुल्ले को ले कर बहसबाजी हो गई.

ऐसे में जरूरी है कि यात्रा शुरू करने से पहले ही टोल प्लाजा रेट से जुड़ी जानकारियाँ हासिल कर ली जाएँ.

आईये देखा जाए कि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण वाले टोल प्लाजा रेट और बाक़ी जानकारियाँ किस तरह हासिल की जाएँ.

आधुनिक तकनीक से यह जानकारियाँ 2  तरह हासिल की जा सकती हैं:

  1. डेस्कटॉप कंप्यूटर द्वारा
  2. एंड्राइड एप्प द्वारा

आपको जरूरत होगी:

  • कम से कम उन दो शहरों की जानकारी, जिनके बीच सफर किया जाना है.
  • इंटरनेट से जुड़े कंप्यूटर या मोबाइल की

डेस्कटॉप/ लैपटॉप द्वारा टोल प्लाजा रेट व अन्य जानकारियां

 

  1. नॅशनल हाईवे अथॉरिटी वाली आधिकारिक वेबसाइट की इस लिंक पर क्लिक करें
  2. भारत के नक़्शे पर दिख रहे अलग अलग रंग के मार्कर पर माउस कर्सर ले जाते ही एक संक्षिप्त विवरण दिखेगा.
  3. किसी भी मार्कर पर क्लिक करते उस मार्कर संबंधित टोल प्लाजा रेट सहित उसके स्थान, उस पर हुए खर्च, अब तक इक्कट्ठा राजस्व, टोल प्लाजा रेट लागू होने की तारीख, चित्र, नजदीक उपलब्ध सुविधाएं आदि जानकारियाँ पा सकते हैं.
  4. इस टोल प्लाजा संबंधित भारत सरकार का गजट नोटिफिकेशन डाउनलोड किया जा सकता है. विस्तृत विवरण देखा जा सकता है.
  5. Search Toll Plaza पर क्लिक कर किसी भी टोल प्लाजा की जानकारी ली जा सकती है, बशर्ते उस टोल प्लाजा का सही सही नाम मालूम हो.
  6. Toll Plaza(s) Between Two Stations पर क्लिक  किया जाए तो यात्रा शुरू करने वाले शहर का नाम व पहुँचने वाले शहर का नाम लिखना होगा. यह काम धीमी गति से किया जाए तो उचित परिणाम मिलेगा क्योंकि आपके लिखे जा रहे नाम से मिलता जुलता नाम, डाटाबेस से दिखाया जाता रहता है, उसे ही आपको चुनना होता है. (मैंने उदाहरण के लिए ग्वालियर से रायपुर चुना हुआ है)
  7. Select mode of travel के सामने चुनना होता है कि यात्रा का माध्यम क्या है? जो कि कार/ जीप से ले कर 7 या अधिक एक्सेल वाली गाड़ियों के बीच है. (मैंने उदाहरण के लिए कार/ जीप चुना है)
  8. इसके बाद Search पर क्लिक किया जाए तो संबंधित टोल प्लाजा रेट की सूची सहित उसे जग-बुझ प्रदर्शित करता एक नक्शा भी आ जाएगा.
  9. राह में पड़ने वाले किसी टोल प्लाजा चिन्ह पर क्लिक करते सारी जानकारियाँ आ जायेंगी, जबकि संबंधित टोल नाम के सामने Traffic Status पर क्लिक करते उस समय का जीवंत ट्रैफिक की संभावना दिखनी शुरू हो जायेगी.
  10. वैसे, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के सारे टोल प्लाजा की सूची इस लिंक पर क्लिक कर पाई जा सकती है. जिसमें संबंधित टोल प्लाजा नाम पर क्लिक कर जानकारियाँ मिल जायेंगी.

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

 

एंड्राइड एप्प द्वारा टोल प्लाजा रेट व अन्य जानकारियां

 

  1. अपने एंड्राइड फ़ोन पर इस लिंक पर दिए गए एप्प को इनस्टॉल करें
  2. पहली बार खुलने पर आपको Register Yourself का विकल्प मिलेगा, उसे क्लिक करें
  3. माँगी गई अपनी जानकारियाँ दें, I agree to Terms and Conditions को चुन लें.
  4. एप्प, स्वयं लॉग इन हो जाए तो ठीक, वरना अपना निश्चित किया गया pin इंटर करें और 3 आड़ी लकीरों वाले मेन्यु पर क्लिक करें.
  5. Toll Plaza with 100 km पर क्लिक करते आपकी भौगोलिक जगह के 100 किलोमीटर के भीतर वाले टोल प्लाजा नक्शे पर दिखने शुरू हो जायेंगे, जिनके चिन्हों पर क्लिक कर टोल प्लाजा रेट की जानकारी मिल जायेगी.
  6. Nearby पर क्लिक करते ही आसपास के रेस्टारेंट, पेट्रोल पम्पस, एटीएम व अस्पतालों की वह जानकारियाँ मिल जायेंगी जो गूगल मैप्स पर उपलब्ध हैं.
  7. Toll plazas enroute पर क्लिक करते आप दो शहरों के बीच के टोल प्लाजा रेट पता कर सकते हैं.
  8. दो शहरों के बीच दिख रहे टोल प्लाजा के रेट, उनके चिन्हों पर क्लिक कर जाने जा सकते हैं.
  9. टोल प्लाजा रेट उसी वाहन के दिखेंगे जिसे आपने रजिस्टर करते समय चुना था, जिसे मेन्यु में जा कर प्रोफाइल में बदला भी जा सकता है

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट

टोल प्लाजा रेट टोल प्लाजा रेट

 

सारी जानकारियाँ राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण NHAI की वेबसाइट औए एप्प पर किये गये अपडेट पर आधारित हैं. ताजी जानकारियों के लिए मोबाइल एप्प का अपडेट रहना बहुत जरूरी है.

ध्यान रखिये, यह टोल प्लाजा रेट व जानकारियाँ राष्ट्रीय राजमार्गों से संबंधित है. प्रादेशिक या स्थानीय टोल प्लाजा रेट अलग हो सकते हैं.

 

ट्रू कॉलर से नाम हटाना किस तरह संभव हो सकता है

ट्रू कॉलर से नाम हटाना कोई बड़ी बात नहीं है. यह उन लोगों के लिए जरूरी भी ही जो अपना विवरण नहीं देना चाहते.

दरअसल ट्रू कॉलर एक ऐसा मोबाइल एप्प है जो किसी दूसरे की मोबाइल कांटेक्ट लिस्ट को हड़प कर उसे अपने डाटाबेस में रख लेता है, जो कि सार्वजनिक होती है.

यदि अपने किसी मोबाइल में ट्रू कॉलर एप्प इनस्टॉल हो और किसी अनजान नंबर से कॉल या मिस्ड-कॉल आ जाए तो ट्रू कॉलर के डाटाबेस में आ चुके उस कॉलर का नाम और बाकी विवरण जान सकते है.

लेकिन अनेक लोग नहीं चाहते कि उनके नंबर से जुड़ा नाम और डिटेल्स ट्रू कॉलर के पास हो. वे ट्रू कॉलर से नाम हटाना भी चाहते है. लेकिन पता नहीं है कि क्या करें.

आईये देखें कि ट्रू कॉलर से नाम हटाना कितना आसान है.

  • आपको जरूरत होगी उस नंबर की जिसे ट्रू कॉलर से नाम हटाना चाहते  हैं.
  • इंटरनेट से जुड़े मोबाइल या कंप्यूटर की

यदि आप ट्रू कॉलर का इस्तेमाल करते हैं और खुद का ही नाम हटाना चाहते हैं तो पहले आपको अपना अकाउंट डीएक्टिवेट करना होगा.

  1. ट्रू कॉलर की इस लिंक पर क्लिक करें
  2. हटाया जाने वाला नंबर, संबंधित देश के कोड सहित लिखें (जैसे भारत के लिए +91XXXXXXXXXX). लैंडलाइन फ़ोन नंबर है तो एसटीडी कोड वाला शून्य ना लगायें.
  3. यदि कोई फॉर्म कारण बताने को दिया जाए तो नंबर हटाने का कारण लिखें.
  4. I am not robot को चुनें. दिया जाने वाला कैप्चा सही सही भरें.
  5. एक बार फिर पूछा जाएगा कि ट्रू कॉलर से नाम हटाना है क्या?
  6. पुष्टि करता सन्देश दिखेगा कि 24 घंटे लग ही जायेंगे नाम नंबर हटाते

ट्रू कॉलर से नाम हटाना

 

वैसे तो ट्रू कॉलर का कहना है कि वह 24 घंटे के अंदर नंबर हटा देता है लेकिन सही उपाय यही होगा कि एकाध हफ्ते बाद किसी ट्रू कॉलर का उपयोग करने वाले से जांच कर ली जाए कि उस नंबर का विवरण दिखता है कि नहीं. अगर नहीं दिखता है तो समझिये कि आपका ट्रू कॉलर से नाम हटाना सफल हो गया. अगर दिखता है तो फिर से नंबर को हटाने की प्रक्रिया कर सकते हैं.

इन सबके बावजूद ऐसा नहीं कि वह नंबर जीवन भर के लिए हट ही गया. एक बार नंबर हटने के बाद हो सकता है उनके डाटाबेस में कभी किसी मोबाइल वाले की कांटेक्ट लिस्ट से नंबर, नाम सहित हड़प लिया जाए और फिर सारा विवरण दिखना शुरू हो जाए.

फोन की DND डू नॉट डिस्टर्ब स्थिति किस तरह जानें

फोन की DND डू नॉट डिस्टर्ब सेवा तब जरूरी हो जाती है जब अजनबी फोन नंबरों से हर दिन न जाने कितनी ही कॉल आती रहें. यह कॉल्स एक बार नहीं कई बार आती हैं.. ढेर सारी कंपनियां अपने उत्पादों और सेवाओं के बेचने के लिए कॉल करती ही हैं.

बेशक स्मार्टफोन में कई एप्प हैं कॉल या एस एम एस ब्लॉक करने के. लेकिन इंटरनेट नेटवर्क ना हो तो? स्मार्टफोन ना हो तो? लैंडलाइन हो तो?

अपने लैंडलाइन या मोबाइल पर मार्केटिंग कॉल आने से रोकने के सरकारी ठोस उपाय अपनाने से पहले सबसे ज़रूरी है यह जानना कि आपका फ़ोन नंबर डीएनडी -Do not Disturb में रजिस्टर है कि नहीं.

आपको जरूरत होगी:

  • दस अंक के उस नंबर की जिसकी स्थिति जांचना कहते हैं.
  • इन्टरनेट से जुड़े कंप्यूटर या मोबाइल की

फोन की DND डू नॉट डिस्टर्ब

आईये देखें कि यह स्टेटस कैसे देखा जाता है

  1. Telecom Commercial Communications Customer Preference portal के इस आधिकारिक लिंक पर क्लिक करें
  2. Phone Number के आगे दी गई खाली जगह में शून्य के बिना दस अंकों के मोबाइल नंबर या एसटीडी कोड सहित लैंडलाइन फोन नंबर डाल कर Search पर क्लिक करें.
  3. यदि फोन की DND डू नॉट डिस्टर्ब स्थिति रजिस्टर्ड वाली हुई तो Phone Number के साथ Status : Registered दिखेगा. साथ ही Activation Date में शुरू होने की तारीख , Service Area में उस फोन नंबर का राज्य, Service Provider में फोन कंपनी का नाम तथा Your Preference में दिखेगा कि फोन कॉल बंद करवाई गई है या एस एम एस या दोनों ही बंद करवाए गए हैं.
  4. अगर फोन की DND डू नॉट डिस्टर्ब स्थिति रजिस्टर्ड नहीं है तो बता दिया जाएगा कि रजिस्ट्रेशन नहीं है.

 

इन्टरनेट पर सैकड़ों वेबसाइट हैं जो फोन की DND डू नॉट डिस्टर्ब स्थिति बताने का दावा करती हैं. लेकिन सावधान रहिए! वे आपका फोन नंबर हड़पने के मायाजाल भर है.

ऊपर दिया गया तरीका आधिकारिक तरीका है फोन की DND डू नॉट डिस्टर्ब स्थिति जानने का.

1 2 3 4