फेसबुक वीडियो को सीधे ही व्हाट्सएप्प पर किस तरह शेयर किया जाए

फेसबुक वीडियो को व्हाट्सएप्प पर शेयर करने की विधि कई मित्र पूछते हैं. आगे बताया गया है कि मोबाइल पर फेसबुक वीडियो को व्हाट्सएप्प पर किस तरह शेयर किया जाए.

आपको जरूरत होगी

  • अपने नियंत्रण वाले गूगल खाते की
  • अपने नियंत्रण वाले फेसबुक खाते की
  • अपने नियंत्रण वाले whatsapp खाते की
  • इन्टरनेट से जुड़े मोबाइल की

गूगल प्ले स्टोर पर जा कर Video Downloader for Facebook डाउनलोड करें.

फेसबुक वीडियो

फेसबुक वीडियो

फेसबुक वीडियो

  1. इनस्टॉल हो जाने पर इसे खोलें. अपने फेसबुक खाते वाले यूजर आईडी, पासवर्ड से लॉग इन करें.
  2. अपने फेसबुक खाते में आगे बढ़ने की अनुमति दें.
  3. सफल लॉग इन के बाद वीडियो की जो सूची मिलेगी, उसमें से शेयर करने वाले वीडियो के प्रकार को चुन लें. लोड हुए वीडियो में से अपना शेयर किये जाने वाला वीडियो चुन लें.
  4. शेयर पर क्लिक करें.
  5. वीडियो डाउनलोड होने की प्रतीक्षा करें
  6. सामने आई स्क्रीन पर whatsapp चुन लें. Just once या Always का विल्कप भी बताएं.

… और फिर अपना वह व्हाट्सएप्प कॉन्टेक्ट चुनें जिसे आप विडियो शेयर करना चाहते हैं!

इसी तरह यू-ट्यूब, मैसेंजर,ई-मेल, ब्लूटूथ जैसे साधनों पर भी फेसबुक वीडियो शेयर किया जा सकता है.

बीएसएनएल टेलीफोन की डायनामिक लॉकिंग किस तरह की जाए

डायनामिक लॉकिंग वह चीज है जिससे बीएसएनएल लैंडलाईन टेलीफोन के अनुचित उपयोग को नियंत्रित करने के लिए, आप इलेक्ट्रॉनिक रूप से अपने टेलीफोन को लॉक कर सकते हैं, इसे  आपके द्वारा चुने जाने वाले 4 अंकों वाले गुप्त कोड की सहायता से किया जा सकता है। यह पूरी तरह से मुफ्त है.

 डायनामिक लॉकिंग

डायनामिक लॉकिंग के लिए पहली बार पंजीकरण:

अपना 4-अंकीय कोड चुनें। हैंडसेट उठाकर 123 के बाद अपना कोड, दो बार डायल करें। जैसे कि, 123-xxxx-xxxx (जहां xxxx आपका अंकों में चुना गया कोड है)। उसके बाद एक स्वीकृति टोन (लंबी अवधि के साथ व्यस्त स्वर) या कमांड को स्वीकार करते हुए एक आवाज संदेश मिलेगा. फोन डिस्कनेक्ट करें। कृपया इस कोड को याद रखें और इसे गुप्त रखें.

 डायनामिक लॉकिंग से एसटीडी / आईएसडी की अनुमति दें या रोकें:

124-xxxx-1 डायल कीजिए, स्वीकृति टोन या आवाज संदेश का इंतजार करें और डिस्कनेक्ट करें। अब एसटीडी / आईएसडी सुविधा रोक दी गई है।

124-xxxx-0 डायल करें, स्वीकृति टोन की प्रतीक्षा करें और डिस्कनेक्ट करें। अब एसटीडी / आईएसडी सुविधा फिर से उपलब्ध है।

 डायनामिक लॉकिंग से कॉल के अन्य प्रकार की अनुमति दें या रोकें:

नीचे दिया गया है कि इसी प्रकार से गुप्त कोड के बाद 2 या 3 या 4 डायल करने से , ग्राहक अपने टेलीफोन से विभिन्न प्रकार के कॉल रोक सकता है:

  • केवल स्थानीय कॉल की अनुमति दी जाएगी और एसटीडी / आईएसडी कॉल को रोक दिया जाएगा। इसके लिए 124-xxxx-2 डायल करें, स्वीकृति टोन या ध्वनि संदेश की प्रतीक्षा करें और डिस्कनेक्ट करें।
  • केवल स्थानीय कॉल, एसटीडी कॉल, स्पेशल सर्विसेज़ कॉल की अनुमति हो और आईएसडी कॉल को प्रतिबंधित करना हो तो 124-xxxx-3 डायल करें, स्वीकृति टोन या ध्वनि संदेश और डिस्कनेक्ट की प्रतीक्षा करें।
  • केवल इनकमिंग कॉल की अनुमति होनी चाहिए और सभी प्रकार की कॉल को प्रतिबंधित किया जाये, इसके लिए 124-xxxx-4 डायल करें, स्वीकृति टोन या ध्वनि संदेश के लिए प्रतीक्षा करें और डिस्कनेक्ट करें।
  • किसी भी बाधित सुविधा को पुन: शुरू करने के लिए: डायल करें 124-xxxx-0

अगर आप चाहें तो अपना 4-अंकीय गुप्त कोड बदल सकते हैं।

इसके लिए 123 डायल कीजिए और वर्तमान कोड के बाद नया कोड डायल करें।

उदाहरण के लिए, यदि आप “xxxx” से “abcd” कोड बदलना चाहते हैं, तो 123-xxxx-abcd डायल करें। स्वीकृति टोन या ध्वनि संदेश की प्रतीक्षा करें और फिर डिस्कनेक्ट करें। आपका कोड अब abcd हो जाएगा.

डायनामिक लॉकिंग के अनधिकृत उपयोग के प्रति सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, यदि गलत कोड का उपयोग बार बार किया जाए तो प्रणाली, कमांड को अस्वीकार कर देगी। यदि गलत कोड 9 बार उपयोग किया जाता है तो टेलीफोन अंतिम स्थिति पर स्थायी रूप से लॉक हो जाएगा जिसे संबंधित टेलीफोन मालिक के लिखित अनुरोध पर बीएसएनएल एक्सचेंज वाले ही रीसेट कर सकेंगे।

वेबसाइट का डोमेन किस तरह खरीदें

वेबसाइट का डोमेन कुछ वैसा ही होता है जैसे घर या ऑफिस के बाहर लगी नेम प्लेट होती है. इसी डोमेन से ही आपकी वेबसाइट की पहचान होती है. यह आपका वेब पता होता है, Web Address!

इसके अलावा यह एक वेबसाइट की बहुत ही मूलभूत जरूरत है. इसके बिना एक आम वेबसाइट नहीं बन/ चल सकती है.

अंग्रेजी के इस Domain का शब्दार्थ है जागीर, कार्यक्षेत्र! इस डोमेन ‘नाम’ का मालिक बनाने के लिए इसे खरीदना होता है. यह खरीद कम से कम एक वर्ष की तो होती ही है. या फिर भले ही इसे 10 वर्ष के लिए खरीद लिया जाए.

दुनिया भर में डोमेन नाम देने वाले सैकड़ों की तादाद में हैं. इनकी सूची यहाँ क्लिक कर देखी जा सकती है. हालांकि इन सबके अलग अलग ऐसे विक्रेता भी होते हैं जो छोटे पैमाने पर अपनी सेवा देते हैं.

जहाँ भारत में भारत में BigRock, Go Daddy, Hostgator India जैसे बड़ी कंपनियां हैं वहीँ Loop Byte जैसी स्थानीय कंपनी भी सेवाएं दे रहीं.

अब देखा जाए कि इसे खरीदा कैसे जा सकता है.

इस काम के लिए जरूरत होगी

  • उस नाम की, जो आपकी वेबसाइट की पहचान को प्रदर्शित करे
  • इंटरनेट से जुड़ा कंप्यूटर
  • डॉलर या रुपये में ऑनलाइन भुगतान के लिए क्रेडिट/ डेबिट कार्ड/ नेट बैंकिंग जैसे साधनों की सुविधा
  • अपने नाम, डाक पते, ईमेल पते, फोन नंबर आदि की सूची

हर डोमेन देने वाली वेबसाइट्स अलग अलग तरीके से अपना इंटरफेस रखती हैं. मोटे तौर पर यह कुछ कुछ यूं होता है.

वेबसाइट का डोमेन

वेबसाइट का डोमेन

वेबसाइट का डोमेनवेबसाइट का डोमेन

 

  1. डोमेन के किसी नाम की खोज करते .com .net .in .co.in .info जैसे दसियों एक्सटेंशन का विकल्प मिल सकता है. अपने डोमेन नाम और एक्सटेंशन को चुन आगे बढ़ते Order Now-Check Out/ Add-Check Out/ Add to Cart-Check Out करें
  2. हर डोमेन देने वाली कम्पनी अपनी व्यवसायिक रणनीति के तहत इस बीच कई लुभावने ऑफर दे सकती है जैसे कि प्राइवेसी प्रोटेक्शन/ होस्टिंग/ ईमेल!
  3. अपने स्वविवेक से इन विकल्पों को जोड़ कर/ हटा कर सावधानीपूर्वक डोमेन की 1 वर्ष या 2 वर्ष या 5 वर्ष या 10 वर्ष की वैधता भी चुनें तथा Continue…/ Proceed… पर क्लिक करें.
  4. इस बार आपको उस वेबसाइट पर अपना खाता बनाने के लिए नाम, ईमेल, उस वेबसाइट पर पासवर्ड, डाक पता, फोन आदि की जानकारी देनी होगी. हो सकता है आपको फेसबुक या गूगल के लॉग इन द्वारा ही Continue करने को उकसाया जाए. यहाँ स्वविवेक से काम लें.
  5. … और उसके बाद Payment Options द्वारा संबंधित राशि का भुगतान करें.

कोशिश कीजिए ऑनलाइन भुगतान के समय सारे सुरक्षा मानकों का पालन हो.

अब क्या? डोमेन हो गया आपका!

1 2 3 4